चेले और शागिर्द

गुरुवार, 24 मार्च 2011

नेता जी का धर्म !

नेता जी का धर्म !
नेता जी का धर्म है सत्ता ,
इसके अनुयायी बढ़ते जाते ,
नेता जी को गुरु मानकर ,
उनके पीछे चलते जाते ,
जैसे भी हो मतलब साधो
यही मन्त्र सबको सिखलाते ,
अमन-चैन की बात भी करते ,
दंगे लगे हाथ करवाते ,
मंदिर -मस्जिद का मुद्दा ले 
नेता जी कुर्सी हथियाते ,
पहले भजन कीर्तन करते 
फिर रोजा इफ्तार कराते  .                   

3 टिप्‍पणियां:

Kailash C Sharma ने कहा…

बहुत सटीक टिप्पणी ...बहुत सुन्दर

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

सही बात ...नेताजी को कहाँ फुर्सत है.... इतने काम जो हैं :)

एम सिंह ने कहा…

सही, सटीक