चेले और शागिर्द

बुधवार, 9 मार्च 2011

नेता जी के उसूल

भाइयो और बहनों एक बात साफ़ है
हम नेताओं के सात खून माफ़ हैं,
हम जो भी कह दे वही इन्साफ है ,
इसीलिए  हम घोटालों की जांच के खिलाफ हैं .
                                            शिखा कौशिक
                   http://netajikyakahtehain.blogspot.com/

3 टिप्‍पणियां:

Atul Shrivastava ने कहा…

वाह शिखा जी आप तो नेताओं की पोल एक एक कर खोल रही हैं।
अच्‍छा लिखा है आपने।
शुभकामनाएं आपको।
महिला दिवस की शुभकामनाएं।
महिला दिवस पर मेरी पोस्‍ट पढें http://atulshrivastavaa.blogspot.com/2011/03/blog-post.html

शालिनी कौशिक ने कहा…

नेताओं का बज गया ढोल,
खुल गयी देखो उनकी पोल.
वाह वाह शिखा जी.

akhtar khan akela ने कहा…

shikhaa ji aaj kaa sch aapne bhtrin alfaazon men utar diya he bdhaayi ho. akahtar khan akela kota rajsthan