चेले और शागिर्द

शुक्रवार, 4 अप्रैल 2014

श्री मोदी की फ़िल्म न पिटने देंगें !



  श्री मोदी की फ़िल्म न पिटने देंगें !

२०१४ के लोक -सभा चुनाव से देश को सबसे बड़ा लाभ यह हुआ कि उसे बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप एक मंझा हुआ कलाकार मिल गया है। श्री मोदी ने अपने इस हुनर को बालीवुड में क्यूँ नहीं आज़माया यह एक गूढ़ रहस्य है। यदि वे बालीवुड में किस्मत आज़माते तो निश्चय ही परेश रावल पर उनकी नक़ल करने का ठप्पा लगता। श्री मोदी की ये कलाकारी २०१४ के चुनाव-प्रचार के दौरान पूरे भारत के सामने आयी है। बुरा हो गुजरात वालों का जिन्होंने ऐसे हुनरमंद अभिनेता को नेता बनाकर उसके जीवन के ६२ वर्ष बर्बाद कर दिए। यदि श्री मोदी सही समय पर बालीवुड में एंट्री ले लेते तो अमिताभ बच्चन जैसे महानायकों की छुट्टी हो जाती। ''देश नहीं झुकने दूंगा ''कहते हुए श्री मोदी ने जो भाव अपने मुख पर प्रदर्शित किये हैं -नए अभिनेताओं को उस पर गौर करना चाहिए। एक सफल अभिनेता ही ऐसे भाव बिना किसी त्रुटि के एक ही शॉट में ओ.के. कर सकता है। मनोज कुमार साहब को भी श्री मोदी के ''मोदी सरकार '' हेतु किये गए इन विज्ञापनों को देखकर अत्यंत दुःख होगा क्योंकि यदि श्री मोदी राजनीति में वक्त बर्बाद न करके अभिनय की दुनिया में किस्मत आज़माते तो निश्चय ही मनोज कुमार साहब भी अपनी देश-भक्ति की फिल्मों में उन्हें ही हीरो बनाते। अब केवल यही कहा जा सकता है - श्री मोदी हो सकता है हम एक नेता के रूप में आपको समर्थन न दें पर आप जिस भी फ़िल्म में लीड रोल करेंगें उसका पहला शो हम जरूर देखेंगें-

         ''आप भले ही अपना वादा भूल जाएँ ''देश नहीं झुकने दूंगा ''
            हम वादा पूरा करेंगें ''आपकी फ़िल्म न पिटने देंगें ''

शिखा कौशिक 'नूतन ''
                            

2 टिप्‍पणियां:

Shalini Kaushik ने कहा…

my full support with you .nice post .

Shalini Kaushik ने कहा…

my full support with you .nice post .