चेले और शागिर्द

शनिवार, 2 अप्रैल 2011

नेता जी का क्रिकेट


नेता क्रिकेट खेलते ,बड़ा अनोखा खेल ,
संसद है स्टेडियम ,सारे एम्. पी. फैन ,
मंत्री बैटिंग कर रहे ,बौलिंग करे विपक्ष
जनता रुपी बॉल  का बुरा हो रहा हश्र  ,
सत्ता रूपी बैट से देते इसे उछाल,
रगड़-रगड़ बौलर करें इसका घटिया हाल ,
जीत हमेशा पक्ष की ;कैसा अद्भुत मैच !
घोटालों के छक्कों को कोई कैसे कर ले कैच ?
                                             
                                 शिखा कौशिक 


2 टिप्‍पणियां:

शालिनी कौशिक ने कहा…

cricket me netaon ka ho gaya bura hal .
mare ve bol ko uchhale janta sawal.
janta ke sawal ka de n paye jawab,
isliye hare buri tarah nahi gali hai dal.

DR. ANWER JAMAL ने कहा…

आप अच्छा लिखती हैं.
आज आपके ब्लॉग का लिंक 'ब्लॉग कि ख़बरें' ब्लॉग पर लगाया जा रहा है .
http://blogkikhabren.blogspot.com/