चेले और शागिर्द

मंगलवार, 3 जून 2014

केंद्रीय ग्रामीण विकास-मंत्री श्री गोपीनाथ मुंडे जी को हार्दिक श्रद्धांजलि

केंद्रीय ग्रामीण विकास -मंत्री श्री गोपीनाथ मुंडे जी का   सड़क-हादसे में 

असामयिक निधन पर हार्दिक श्रद्धांजलि .ईश्वर उनके परिवार को यह 

सदमा सहन करने की शक्ति प्रदान करे !
lsat words of cabinet ninister and bjp leader gopinath munde
जो  बिछड़  जाते  हैं  ..



जो बिछड़ जाते हैं हमेशा के लिए
छोड़ जाते हैं बस यादों के दिए
जिनकी रौशनी में उनका साथ पाते हैं
वो नहीं आयेंगे ये भूल जाते हैं .
.............................................

जिन्दगी कितने काँटों से है भरी
हर दिन कर रही हम सब से मसखरी
जो चला था घर से मुस्कुराकर  के अभी
एक हादसा हुआ और आया न कभी
साथी राहों में ऐसे ही छूट जाते हैं
वो नहीं आयेंगे ये भूल जाते हैं .
...........................................

रोज सुबह होती और शाम ढलती है
जिन्दगी की यू ही रफ़्तार चलती है
वो सुबह और शाम कितनी जालिम है
जब किसी अपने की साँस थमती है
हम ग़मों की आग में जिन्दा जल जाते हैं .
वो नहीं आयेंगे ये भूल जाते हैं .
......................................
शिखा कौशिक

1 टिप्पणी:

Shalini Kaushik ने कहा…

samayik abhivyakti .shri gopinath munde ji ko hardik shradhanjali .