चेले और शागिर्द

रविवार, 19 जनवरी 2014

भाजपा को आज एक राहुल गाँधी चाहिए !

देश की ऐसी दुर्दशा कभी नहीं देखी
दिल्‍ली के रामलीला मैदान में भाजपा के राष्ट्रीय अधिवेशन के अंतिम दिन प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस और यूपीए सरकार पर तीखा हमला बोला। हमला बोलने में सुषमा जी ने भी उनका खूब साथ दिया .आखिर इसके अलावा उनके पास है ही क्या ? राहुल ..राहुल ...राहुल ...केवल इस नाम का उच्चारण कर कर के बीजेपी सत्ता में आना चाहती है .राम -मंदिर मुद्दा हो या अनुच्छेद ३७० -सब छोड़ने को तैयार है बीजेपी .कोई स्पष्ट एजेंडा नहीं देश के विकास का पर देश को भरमाने का पुरजोर प्रयास . हमारी सलाह है कि अपनी पार्टी के लिए ख़ून से सने हाथों वाला नेता छोड़कर कोई राहुल जी जैसा सर्वप्रिय नेता तैयार करे बीजेपी शायद तब २०१४ के लोक सभा चुनाव में उन्हें अपने प्रत्याशी मैदान में उतारने चाहियें -

भाजपा को आज एक राहुल गाँधी चाहिए
घुट  रही  है भाजपा ;परिवर्तन आंधी चाहिए ,
भाजपा को आज एक राहुल गाँधी चाहिए .
....................................................
पद का मोह जिसको  न  हो संगठन पर ध्यान दे  ;
मखमली  नेता नहीं  मोटी  खादी  चाहिए .
.....................................................
चुक गए नेता हैं जो संन्यास लेने  को कहो ;
उनको लोभ- मोह  छोड़  लेनी  समाधि चाहिए .
..................................................................
तर्क की  अब  धार  भाजपा में  न  रही  ;
बात  पूरी  न  सही  आधी  तो  होनी चाहिए .
.......................................................
सबल  विपक्ष लोकतंत्र का  रहा  प्रहरी  सदा  ;
भाजपा की  दूर होनी हर  व्याधि  चाहिए .

शिखा  कौशिक 'नूतन'

1 टिप्पणी:

02shalinikaushik ने कहा…

you always say truth .today's position also say this fact.nice presentation of present situation.