चेले और शागिर्द

शनिवार, 6 जुलाई 2013

श्री राम नाम पर कभी सियासत मत करना श्रीमन !


श्री राम नाम पर कभी सियासत मत करना श्रीमन !
सर्वाधिकार सुरक्षित

हर निर्मल उर है  साकेत के सम जिसमे बसते है श्री राम लखन ,
यही विराजें मेरी सीता माता हनुमत संग श्री भरत शत्रुघ्न !
तीन लोक के स्वामी रघुवर को मेरा नमन !

निर्मल उर में श्रद्धा के मंदिर जहाँ चलें श्री राम भजन ,
रहो प्रेम से सन्देश राम का मत दूषित करना अंतर्मन ,
ईटों-पत्थर के मंदिर से बेहतर पावन-मन !
हर निर्मल उर है  साकेत के सम !

द्वेष भाव जो मन में रखते श्री राम को प्रिय न लगते ,
शरणागत वत्सल करुणा के सागर शत्रु को भी क्षमा हैं करते ,
वचन निभाते दुःख सहकर भी दशरथ के नंदन !
हर निर्मल उर है  साकेत के सम !

धर्म पताका ये फहराते दुष्ट दलन हैं ये कहलाते ,
निज बाहुबल से रावण संहारे प्रण पूरा करते श्री राम हमारे ,
नीति पथ पर चलते हैं मर्यादा पुरुषोतम !
हर निर्मल उर है  साकेत के सम !

बस वो ही ले श्री राम का नाम जिसका लक्ष्य हो जन- कल्याण  ,
भ्रमित करें जो हम भक्तों को प्रभु का वो करता अपमान ,
श्री राम नाम पर कभी सियासत मत करना श्रीमन !


बीजेपी ने श्री राम के नीति पथ ,वचन-पालन ,प्रण पूरे कर  दिखाने  व् प्रेम भाव का प्रसार करने जैसे एक भी गुण को नहीं अपनाया -''मंदिर वहीँ बनायेंगें'' का नारा तो दिया पर सत्तसीन होते ही भूल गयी फिर क्यों बार बार मंदिर-मुद्दा उठाकर भारत के  शांति व् सद्भावपूर्ण माहौल को बिगाड़ना चाहती है .
[सन्दर्भ -Rajnath Singh defends Shah on Ram temple-
The BJP president says every religious person wants their religious structures to be grand and there is nothing wrong in expressing such a wish ]


SHIKHA KAUSHIK 

3 टिप्‍पणियां:

पूरण खण्डेलवाल ने कहा…

सुन्दर !!

Shalini Kaushik ने कहा…

सार्थक सन्देश आभार क्या ये जनता भोली कही जाएगी ? #

आप भी जानें संपत्ति का अधिकार -5.नारी ब्लोगर्स के लिए एक नयी शुरुआत आप भी जुड़ें WOMAN ABOUT MAN हर दौर पर उम्र में कैसर हैं मर्द सारे ,


रेखा श्रीवास्तव ने कहा…

aakhir kab tak ye neta ram ke naam ko bhuna kar janta ko pagal banana chahte hain . unaki shuruaat hi isa tarah hui to apana beda garg samajhe . ab janata dharmbheeru nahin rahi . vartmaan halaton ko apana mudda banayen to umeed rakhen isa basi mudde ko jeetane par adalat ke paale men phenkane ke hathkande ko sab jaan chuke hain . aise neta aur parti kuchh de nahin sakati .