चेले और शागिर्द

सोमवार, 5 सितंबर 2011

नेता जी ने खोजा नया अलंकार !


Nitin Gadkari, Arun Jaitley Pictures & Photos

[सुलेख .कॉम से साभार ]

'अन्ना के नेतृत्व में  हम  बढ़ने को तैयार '
नितिन गडकरी ने कहा तो मच गया हाहाकार ;
अरुण जेटली समझाते -समझो मेरे यार ;
इस  कथन में छिपा है -''भ्रष्ट -अलंकार''

                              शिखा कौशिक 
[इस पोस्ट पर ''भड़ास '' पर रविकर जी की  टिप्पणी आई जो अति सुन्दर है .यहाँ उसे लगा रही हूँ .पढ़िए -
Blogger रविकर said...

वाह!

गडकरी नहीं ये ढोल है |
अन्दर पोलमपोल है |

कांग्रेस को अवसर देता --
पोल रहा अब खोल है |

अन्ना के आन्दोलन में भी
आर एस एस का रोल है |

समय-समय पर अध्यक्ष जी की
जाय जुबाँ यूँ डोल है ||

1 टिप्पणी:

Kailash C Sharma ने कहा…

सटीक व्यंग ॰